अब 'रामलीला' कराएगी कमलनाथ सरकार, सभी 378 नगरीय निकायों में मंचन होगा
December 3, 2019 • vikram kumar

मध्यप्रदेश में कांग्रेस सरकार अब पूरे प्रदेश में 'रामलीला' कराने की तैयारी कर रही है। प्रदेश के सभी 378 नगरीय निकायों में इसका मंचन सरकारी खर्चे पर किए जाने की तैयारी है। जिस स्थान पर राम लीला का मंचन होगा, उस जगह एक पक्का मंच भी सरकार बनवाएगी। प्रदेश के नगरीय विकास एवं आवास मंत्री जयवर्धन सिंह ने सोमवार को बरेली में 'आपकी सरकार आपके द्वार' अभियान के तहत कार्यक्रम में यह जानकारी दी।

जयवर्द्धन ने कहा, "सरकार रामलीला का मंचन कराएगी। इस संबंध में योजना तैयार कराई जा रही है। राज्य में सभी नगर पंचायतों, नगर पालिकाओं और नगर निगम क्षेत्रों में रामलीला का मंचन कराया जाएगा।" 

सिंह ने यह भी कहा कि राज्य में कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं के बीच किसी भी प्रकार की गुटबाजी नहीं है। सभी नेता एकजुट हैं। सिंह ने बरेली में 5 करोड़ रुपए से अधिक राशि के विकास कार्यों का लोकार्पण और शिलान्यास भी किया। इस अवसर पर रायसेन जिले के प्रभारी मंत्री हर्ष यादव और शिक्षा मंत्री प्रभुराम चौधरी भी मौजूद थे। 

गोशाला और रामपथगमन अधर में: बीते 11 महीने पहले प्रदेश में हुए विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने घोषणापत्र में गोशाला और रामपथगन मार्ग विकसित करने का वादा किया था। इसके बाद मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कई बार इस मुद्दे पर बयान दे चुके हैं। प्रदेश भर में 6 हजार गोशाला बनाने का काम भी पूरी तरह से शुरू नहीं हो पाया है। वहीं रामपथगमन पर भी अभी कुछ नहीं हुआ है।